Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

उप शिक्षा निदेशक/प्राचार्य अभिजीत सिंह की अध्यक्षता में डायट सभागार में हुई बैठक।

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

उप शिक्षा निदेशक/प्राचार्य अभिजीत सिंह की अध्यक्षता में डायट सभागार में हुई बैठक।
निपुण भारत मिशन बच्चों को आधारभूत साक्षरता और संख्यात्मकता ज्ञान के लिए सराहनीय पहल- अभिजीत सिंह।
महराजगंज- जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान डायट विभाग की ओर से निपुण भारत मिशन पर संगोष्ठी पर की गई बैठक।
प्राचार्य अभिजीत सिंह ने कहा कि कक्षा तीन तक के छात्रों को भाषा और गणित में निपुण बनाया जाएगा। निपुण भारत के लिए पढ़ाई के साथ बुनियादी ज्ञान भी जरूरी है। प्राचार्य अभिजीत सिंह ने संबोधन में कहा कि शिक्षा की मुख्य धारा से छूटे बच्चों को भाषा व गणित में दक्ष बनाने के लिए यह अभियान शुरू किया है। लाइब्रेरी, शिक्षण सामग्री का शत प्रतिशत उपयोग करके परिषदीय के बच्चों को निजी स्कूलों से भी बेहतर बनाने की कोशिश की जाएगी।
बैठक में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी आशीष कुमार सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि निपुण भारत मिशन के तहत शिक्षकों को प्रशिक्षण देकर पारंगत किया जा रहा है। बीएसए ने बताया कि निपुण भारत मिशन भारत सरकार का महत्वाकांक्षी अभियान है। शिक्षकों को निर्धारित कार्यक्रम के तहत कालांश के हिसाब से प्रतिदिन बच्चों को पढ़ाना है। निपुण भारत मिशन के माध्यम से सक्षम वातावरण का निर्माण किया जाएगा, जिसके माध्यम से आधारभूत साक्षरता और संख्यात्मकता के ज्ञान को छात्रों को प्रदान किया जा सकेगा। इस योजना का कार्यान्वयन स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग द्वारा किया जाएगा। उन्होंने स्कूल मैनेजमेंट कमेटी को मजबूत करने पर बल दिया। सभी स्कूलों में अगले 15 दिन में कापी किताबें मिल जाएंगी। यही नहीं, बच्चों की ड्रेस का पैसा भी जल्द ही खातों में पहुंचने लगेगा। जिन स्कूलों तक पहुंचने के लिए रास्ता ठीक नहीं है, उसे बनवाया जाएगा।
अन्य जिलों के अधिकारियों ने स्कूलों की स्थिति व कामों के बारे में जानकारी दी। इस मौके पर बीएसए, खंड विकास अधिकारी समेत शिक्षा विभाग के सभी अधिकारी उपस्थित रहे।