Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

गोली मारने के आरोपियों पर कार्यवाही ना करने का पुलिस पर आरोप, ग्रामीणों ने लगाया रोड़ पर जाम

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

गोली मारने के आरोपियों पर कार्यवाही ना करने का पुलिस पर आरोप, ग्रामीणों ने लगाया रोड़ पर जाम

 

 

परिवार का आरोप पुलिस आरोपियों को बचाने के लिए बना रही है फैसला का दवाब

 

 

बुलन्दशहर/डिबाई :- कोतवाली क्षेत्र के ग्राम दौलतपुर बरारी मार्ग पर किसी विवाद को लेकर बाइक सवार युवकों द्वारा गोली मारने का मामला सामने आया था जिसमें एक युवक को गोली मार दी थी गोली युवक के पैर में लगी थी सूचना पर पहुंचे परिजनों और पुलिस ने युवक को दानपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया था मामले को गंभीर देखते हुए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया था, थाना अहमदगढ़ क्षेत्र के गांव खुदादिया निवासी रोहित ने बताया कि 10/12 दिन पहले मेरा फार्म दौलतपुर मुरादपुर पर स्थित है जहां पर यह लोग आकर गुंडागर्दी एवं छिछोरापंती करते थे जिसका मैंने विरोध किया तो इन लोगों ने मेरे साथ मारपीट की, जिसकी शिकायत दौलतपुर चौकी पर की गई लेकिन पुलिस के द्वारा इनके खिलाफ कोई संज्ञान नहीं लिया गया बीते दिन भी इन लोगों ने मेरे साथ मारपीट की थी लेकिन पुलिस वह मौजूद लोगों ने दोनों पक्षों का समझौता करा दिया था घटना के दिन मैं अपने फार्म से डॉक्टर के पास दवाई लेने जा रहा था तभी प्रशांत, वीरम, मिथुन पुत्रगण मानिक चंद निवासी दौलतपुर एवं हरेन्द्र व इनके अन्य साथियों द्वारा द्वारा मुझे अकेला देख मेरे साथ मारपीट की और मुझे उठा कर कब्रिस्तान की तरफ ले जाकर मेरा गला दबाकर मारने की कोशिश की गई मैं बड़ी मशक्कत के बाद इन लोगों से अपनी जान बचाकर भागने लगा तभी इन्होंने मेरे पिस्टल से गोली मार दी पीड़ित के भाई प्रशांत ने बताया बताया कि बीते दिन इनमें किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था, जिसमें कुछ लोगों ने समझा-बुझाकर मामला शांत कर दिया था लेकिन कल इनके द्वारा मेरे भाई को अकेला देखकर इसके साथ मारपीट कर इसे कब्रिस्तान के पास ले जाकर गला दबाकर मारने की कोशिश की और उसके गोली मार दी घटना के बाद पीड़ित के भाई प्रशांत ने दौलतपुर चौकी इंचार्ज संदीप तोमर को घटना की जानकारी दी तो उन्होंने हमसे कहा कि इसे यहां से तुम लोग ले जाओ नहीं तुम्हारे खिलाफ ही उल्टा मुकदमा दर्ज कर दिया जाएगा इसकी हालत गंभीर देखते हुए हमने पहले इसको डिबाई दोराहा पर स्थित अस्पताल में भर्ती कराया इसके बाद दानपुर सरकारी अस्पताल में ले गए वहां से डाक्टरों ने हालत गंभीर देखते हुए हायर सेंटर रेफर कर दिया मेरठ में इसका इलाज किया गया हालत में सुधार के बाद वहां से डिस्चार्ज कर दिया गया वहां से आने के बाद हम लोगों ने पुलिस से जानकारी ली कि मामले में क्या कार्रवाई की गई है तो पुलिस ने कोई भी स्पष्ट जवाब नहीं दिया जिसको लेकर अपनी मांगों को लेकर पीड़ित के परिजनों ने पीड़ित को चारपाई पर डालकर रोड पर जाम लगाया पुलिस आरोपी को बचाने में लगी है चौकी इंचार्ज संदीप तोमर व राजवीर कांस्टेबल व चौकी पर मौजूद कॉन्स्टेबल अन्य तथाकथित लोगों द्वारा हमारे ऊपर फैसले का दबाव बनाया जा रहा है और मामले पर कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है पुलिस आरोपी की मदद करने में जुटी है पुलिस द्वारा आरोपी को बचाने की कोशिश की जा रही है पीड़ित के भाई ने बताया कि चौकी इंचार्ज संदीप तोमर द्वारा हमें उल्टा धमकाया जा रहा है कि आप लोग फैसला कर लो नहीं तो आपके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया जाएगा उसके बाद मौके पर क्षेत्राधिकारी डिबाई विकास प्रताप सिंह पहुँचे उनके द्वारा आश्वासन दिया गया है कि आप जाम को खुलवा दीजिएगा आप की जांच होकर कल तक कार्रवाई करा दी जाएगी लोगों ने सीओ के आश्वासन के बाद जाम को खोला दिया है

 

जब मामले की जानकारी क्षेत्राधिकारी डिबाई विकास प्रताप सिंह से ली गई तो उन्होंने बताया कि पीड़ित के परिजनों ने अपनी कार्यवाही को लेकर जाम लगाया था परिवार के लोगों को समझा-बुझाकर जाम खुलवा दिया गया है और मामले में तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है जांच कर कार्रवाई की जाएगी