Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

डॉक्टर और नर्स को बदमाशों ने गोली मारी,नर्स की मौत, डॉक्टर गंभीर रूप से घायल

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

बिहार——

पटना: बिहार में कानून व्यवस्था की स्थिति इतनी खराब हो चुकी है कि आये दिन सूबे बिहार में अपराधियों द्वारा अपराध की घटनाओं को अंजाम देकर आराम से निकलने की बात सामने आती रहती है। ताजा जानकारी सीतामढ़ी से मिली है। सीतामढ़ी के चर्चित सर्जन डॉ शिवशंकर महतो को बदमाशों ने राजोपट्टी परिसदन के सामने उनके निजी नर्सिंग होम में घूसकर गोली मार दी। गोलीबारी में नर्सिंग होम में मौजूद एक नर्स की घटनास्थल पर ही मौत हो गई,जबकि डाॅक्टर गंभीर रूप से घायल हो गये।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार घटना मंगलवार देर रात 12.30 बजे की है। जख्मी हालत में डाॅक्टर को बगल के नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है। बताया जाता है कि डाॅक्टर को तीन गोलियां लगी है;जबकि नर्स को 5 गोलियां लगी थीं और मौके पर ही उसने दम तोड़ दिया था।
सीतामढ़ी डीएसपी रमाकांत उपाध्याय द्वारा घटना की पुष्टि करते हुए जानकारी दी गई है कि गोली लगने से नर्स की मौत हो गई है जबकि डॉक्टर की स्थिति गंभीर बनी हुई है।उनका इलाज चल रहा है। फिलहाल पुलिस अपने स्तर से घटना की जांच में जुटी हुई है और मामले के उद्भेदन में लगी हुई है।
बताया जाता है कि घायल डॉक्टर का इलाज डॉक्टर प्रवीण कुमार कर रहे हैं। डॉक्टर प्रवीण कुमार द्वारा बताया गया है कि डॉ.शिवशंकर महतो को सीना,हाथ और पैर में गोली लगी है। ऑपरेशन कर गोली निकालने का काम किया जा रहा है। घटना के संबंध में बताया जाता है कि डॉ.शिवशंकर महतो देर रात अपने नर्सिंग होम से लौटकर गाड़ी पार्क कर रहे थे उसी समय पहले से घात लगाए बदमाशों ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। उनके साथ मौजूद नर्स की मौत घटनास्थल पर ही हो गई, जबकि डाॅक्टर गंभीर रूप से घायल हो गए।
घटना की खबर मिलते ही पुलिस महकमे में खलबली मच गई। सदर डीएसपी सहित कई थानों की पुलिस मौका-ए-वारदात पर पहुंच कर मामले की जांच शुरू कर दी। गंभीर रूप से घायल डॉक्टर के इलाज के बारे में जानकारी प्राप्त की। बताया जाता है कि घटना के समय डाॅक्टर की दूसरी पत्नी भी मौजूद थी लेकिन वह बाल-बाल बच गई। क्लिनिक में मौजूद स्टाफ के हवाले से बताया गया है कि गोली की आवाज सुनकर दहशत में उनलोगों ने अपने को कमरे में बंद कर लिया। चारों ओर खून के धब्बे दिखाई देने की बात बताई गई।
मौके पर दलबल के साथ पहुंचे एसपी हरकिशोर राय मामले की तफ्तीश में जुट गए हैं। उनका कहना है कि प्रथम दृष्टया मामला पारिवारिक विवाद का लग रहा है। कारण डाॅक्टर ने दो-दो शादियां की है जिसका विवाद चल रहा है। बताया जाता है कि इस मामले में एक व्यक्ति को शक के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।
इस हत्या कांड को लेकर डॉक्टरों में काफी आक्रोश है। आइएमए ने वारदात के विरोध में बुधवार को सभी निजी क्लीनिक बंद रखने का निर्णय लिया है।
जे.पी.श्रीवास्तव,
ब्यूरो चीफ, बिहार।