Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

पारिवारिक स्वास्थ्य कार्ड बनाने आए दो लोगों को ग्रामीणों ने खदेड़ा

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

संवाददाता जाफरगंज

धनवंतरी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का बैनर लगाकर ₹100 में आजीवन बनाए जा रहे थे ग्रामीण फैमिली हेल्थ कार्ड। सूचना पर पहुंची ग्राम प्रधान के जानकारी लेने पर फर्जी पाए गए कार्ड बनाने वालों को ग्रामीणों ने खदेड़ा।
विकासखंड खजुहा के ग्राम सभा ककोरा में शनिवार की शाम हेल्थ कार्ड बनाने पहुंची दो लोगों की टीम। सहायक पंचायत मित्र शिशुमन ने डुग्गी पिटवाकर ग्रामीणों को एक जगह इकक्ट्ठा कर लिया। और कार्ड के जरिए ₹5 की ओपीडी करने का लालच दिया और कानपुर में अस्पताल की पांच शाखाओं में फ्री इलाज करने की बात कही और कैंसर पीड़ितों की फ्री ओपीडी की भी बात कही ग्रामीणों के स्वास्थ्य कार्ड बनाए जाने के नाम पर ₹100 प्रति कार्ड की वसूली करने पर मौके पर पहुंची ग्राम प्रधान पूनम देवी के बात करने पर कार्ड बनाने वालों ने ब्लॉक स्तर से भेजे जाने की बात कही। वही प्रधान पूनम देवी ने बी डी ओ रत्नाकर त्रिपाठी से बात कर टीम भेजे जाने की जानकारी ली तो उन्होंने साफ मना कर दिया ब्लॉक स्तर से किसी टीम को नहीं भेजा गया। प्रधान ने खरी-खोटी सुनाई और ग्रामीणों के सहयोग से गांव से बाहर निकाल दिया।
ग्राम प्रधान पूनम देवी का कहना है कि जब ग्रामीणों के उत्पीड़न की जानकारी हुई तो मौके पर पहुंची तो ग्रामीणों ने बताया कि सहायक पंचायत मित्र ने डुग्गी पिटवाकर सभी को इकट्ठा किया था। सीएमओ फतेहपुर से इस संबंध में जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि इस तरह का कोई मामला मेरे संज्ञान में नहीं है ना ही मेरे द्वारा कोई लेटर जारी किया गया है