Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

बालू माफियाओं से साठ-गांठ के आरोप में नपे एक और डीएसपी (निलंबित)

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

बिहार—–

पटना:बालू खनन माफियाओं से साठ-गांठ के आरोप में निलंबित डीएसपी पंकज कुमार रावत के ठिकानों पर EOU की छापामारी जारी है। पटना के दो ठिकानों पर आज सुबह से रेड किया जा रहा है। अवैध बालू खनन के मामले में माफियाओं से साठ-गांठ को लेकर आरा के डीएसपी पहले ही निलंबित किये जा चुके थे। आय से अधिक सम्पत्ति अर्जित करने के मामले में आर्थिक अपराध इकाई द्वारा एफआईआर दर्ज कर उनके दो ठिकानों पर आज सुबह से छापेमारी जारी है।
पटना के श्रीकृष्णापुरी के अलावा दानापुर के नासरीगंज और नालंदा के हिलसा स्थित पैतृक आवास पर भी छापेमारी चल रही है। छापेमारी का नेतृत्व डीएसपी स्तर के अधिकारी कर रहे हैं। बताया जाता है कि आर्थिक अपराध इकाई ने शुक्रवार को ही आय से अधिक सम्पत्ति के मामले में एफआईआर दर्ज किया था। कोर्ट से सर्च वारंट मिलने के बाद आज छापामारी चल रही है।
आर्थिक अपराध इकाई की सूत्रों की मानें तो पंकज कुमार रावत के यहां आय से 70 फीसदी अधिक की संपत्ति मिली है। निलंबन के बाद उन पर विभागीय कार्यवाही भी चल रही है। बिहार पुलिस सेवा के पंकज रावत की नियुक्ति सीधे डीएसपी के पद पर हुई थी। बालू माफियाओं से साठ-गांठ के आरोप में बिहार के कुल 41 अफसरों पर कार्रवाई हुई है। इन सभी अफसरों को बिहार सरकार के आदेश से पहले ही निलंबित किया जा चुका है।
सभी 41 अफसर आर्थिक अपराध इकाई के रडार पर हैं।इनमें से कुछ के खिलाफ संपत्ति की जांच भी हो चुकी है। आनेवाले दिनों में इन सभी के खिलाफ आर्थिक अपराध इकाई कार्रवाई कर सकती है। बालू माफियाओं से साठ-गांठ के आरोपियों के खिलाफ आर्थिक अपराध इकाई की जारी कार्रवाई में पिछले दिनों जहां पूर्व डीएसपी तनवीर अहमद के ठिकानों पर छापामारी की थी, वहीं आज पूर्व डीएसपी पंकज रावत के ठिकानों पर छापामारी चल रही है।
जे.पी.श्रीवास्तव,
ब्यूरो चीफ, बिहार।