Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

मोतिहारी में चोरी की गाड़ी और उसके कटे हुए पूर्जे दो गैरेज से बरामद, पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

बिहार—–

मोतिहारी:चोरी की गाड़ी का जबतक खपत होने की व्यवस्था नहीं होगी,तब तक गाड़ी की चोरी होने का कोई प्रश्न ही नहीं है। किसी भी चीज की चोरी तब तक नहीं हो सकती जबतक उसके खरीददार नहीं हो। प्राप्त जानकारी के अनुसार पूर्वी चम्पारण जिला के दो थाना क्षेत्रों से चोरी की गाड़ी को खपाने की सूचना पुलिस को किसी श्रोत से मिली थी। बताया जाता है कि दोनों जगह के गैराज में चोरी की गाड़ी को छिपा कर रखा जाता था। रात में गाड़ी के पार्ट्स को अलग-अलग कर बेंच दिया जाता था।
फहली घटना पहाड़पुर थाना क्षेत्र के नरकटिया चौक की है। जहां पुलिस गैराज में छापामारी कर बड़ी संख्या में चोरी के पार्ट्स सहित भारी मात्रा में नम्बर प्लेट बरामद किया है। छापामारी की भनक लगते ही मुख्य मिस्त्री भागने में सफल रहा।
बताया जाता है कि अरेराज डीएसपी संतोष कुमार के नेतृत्व में पहाड़पुर और हरसिद्धि पुलिस ने संयुक्त रूप से छापामारी की। इसमें एक मिस्त्री को गिरफ्तार कर लिया गया है। मिस्त्री के निशानदेही पर गिरोह के उद्भेदन के कार्य में पुलिस लगी हुई है। छापामारी रविवार को हुई और उस गैराज से कई बोलेरो के कटे पार्ट्स के साथ गैराज संचालक के भाई को पुलिस गिरफ्तार कर ली। उक्त गैराज भाड़े के मकान में चल रहा था।
बताते चलें कि उक्त गैराज में चार-पांच अन्य गाड़ियों के चेचिस और कटे पार्ट्स बरामद हुए हैं। चोरी की गाड़ी को काटकर पार्ट्स को अलग-अलग बेंचने का धंधा उक्त गैराज में किया जाता था। गिरफ्तार गैराज संचालक सह मुख्य मिस्त्री का भाई बेतिया के वैकुंठवा पंचायत के नकटी पटेरवा गांव निवासी नकीब आलम बताया जाता है। जबकि गैराज मालिक सह मुख्य मिस्त्री आफताब पुलिस की भनक मिलते ही फरार हो गया।
गैराज से मिले सभी गाड़ियों के नम्बर प्लेट मिटा दिये गये हैं, वहीं आधा दर्जन से अधिक गाड़ियों के नम्बर प्लेट भी बरामद किये गये हैं। जानकारी के अनुसार हरसिद्धि थाना क्षेत्र के दरियापुर गांव निवासी ओबैद असरफ की बोलेरो 8 अगस्त को दरियापुर से चोरी कर ली गई थी। इसकी प्राथमिकी हरसिद्धि थाना में उन्होंने दर्ज कराई थी। घटना के उद्भेदन के लिए डीएसपी अरेराज के नेतृत्व में हरसिद्धि और पहाड़पुर थाना द्वारा संयुक्त कार्रवाई करते हुए उक्त गैराज पर छापामारी की गई तब जाकर इसका खुलासा हुआ।
पहाड़पुर थानाध्यक्ष महेंद्र कुमार और हरसिद्धि थानाध्यक्ष प्रमोद पासवान ने बताया कि हिरासत में लिये गये मिस्त्री से पूछताछ की जा रही है। वहां मिले नम्बर प्लेट की जांच डीटीओ कार्यालय से कराने की कार्रवाई भी की जा रही है। जांच से खुलासा होगा कि गाड़ी किसकी है।
दूसरी घटना मोतिहारी मुफस्सिल थाना क्षेत्र के टिकुलिया गांव की है। इस गांव के निवासी मुखी यादव के घर पर छापामारी कर पुलिस ने चोरी के दो बोलेरो,दो ट्रैक्टर और पांच बाइकें बरामद की है।साथ में चोरी की गाड़ी के कई पार्ट्स भी बरामद किये गये। इसके अलावा 19 लीटर शराब भी बरामद हुए।इस मामले में मुखी यादव,उसकी पत्नी मनसा देवी और पुत्र दिलशेर को गिरफ्तार कर लिया गया है।
बताया जाता है कि मुजफ्फरपुर के मोतीपुर और मुफस्सिल पुलिस की संयुक्त छापामारी में चोरी के वाहन बरामद किये गये। इस मामले में एसपी नवीन चन्द्र झा का कहना है कि गिरफ्तार लोगों का सम्पर्क अन्तर्राजीय वाहन चोर गिरोह से है। पहले भी मुखी यादव के घर से चोरी के पांच वाहन बरामद किये गये थे। बताया जाता है कि मोतीपुर से चोरी गये ट्रैक्टर की बरामदगी के लिए मोतीपुर पुलिस ने मुफस्सिल पुलिस के सहयोग से मुखी यादव के घर पर संयुक्त रुप से छापामारी की और मोतीपुर से चोरी गये ट्रैक्टर को बरामद किया। मोतीपुर पुलिस ने मुखी यादव,उसकी पत्नी और पुत्र को भी गिरफ्तार कर अपने साथ लेती गई। तीनों की संलिप्तता वाहन चोर गिरोह से है। छापामारी टीम ने बताया कि मुखी यादव का पूरा घर ही गैराज के रुप में इस्तेमाल होता था।
जे.पी.श्रीवास्तव,
ब्यूरो चीफ, बिहार।