Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

राजघाट में वृक्ष लगाकर बनाया पृथ्वी विश्व दिवस 

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

राजघाट में वृक्ष लगाकर बनाया पृथ्वी विश्व दिवस
पृथ्वी विश्व दिवस पर पौधे लगाकर प्रदूषण के दुष्प्रभावों से पृथ्वी को बचाये- कुबेरदत्त शर्मा
बुलन्दशहर:- डिबाई तहसील क्षेत्र के राजघाट में स्थित वन विभाग की नर्सरी पर वन विभाग अधिकारियों ने वृक्ष लगाकर पृथ्वी विश्व मनाया, डिबाई रेंजर कुबेर दत्त शर्मा ने बताया कि बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण और पेड़ों के कटान के दुष्प्रभावों से पृथ्वी को बचाने को हर साल 22 अप्रैल को विश्व पृथ्वी दिवस मनाया जाता है इस पृथ्वी दिवस पर हमारे पास जनपद के हरित कवच में दोगुनी वृद्धि का उत्सव मनाने का अवसर  मिलता है पृथ्वी को प्रदूषण के खतरे से बचाने के लिए विश्व भर में हर साल 22 अप्रैल को वर्ल्ड अर्थ डे के रूप में मनाया जाता है प्रदूषण के चलते ग्लोबल वार्मिंग लगातार बढ़ रही है इसी के चलते सूखा बाढ़ तूफान और खतरनाक मौसमी परिस्थितियां जन्म लेती हैं इस वर्ष पृथ्वी दिवस 2022 की थीम इन्वेस्ट इन अवर प्लेनेट है इसका संदेश है कि हम अपनी धरती पर हरियाली का निवेश कर ही आगामी पीढ़ियों के भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं इस दिशा में साल दर साल हो रहे  प्रदूषण का असर दिखाना शुरू कर दिया है जिसके चलते हम सभी को संकल्प लेना चाहिए कि सबसे महत्वपूर्ण जल संरक्षण पर पानी की एक एक बूंद को बचाना है और भूगर्भीय जल भंडार को बढ़ाना होगा इसके अलावा प्रदूषण कम करने का प्रयास करना होगा लोग निजी वाहनों के उपयोग में कमी कर इसमें सहयोग कर सकते हैं कचरा प्रबंधन भी पर्यावरण की दृष्टि से आवश्यक कदम है पॉलिथीन के कम से कम इस्तेमाल का संकल्प ले बिजली के न्यूनतम उपयोग से ही हम प्रदूषण रोकने में मदद कर सकते हैं,  वही डिबाई वानिकी दरोगा सुरेन्द्र कुमार बिष्ट ने बताया कि पृथ्वी विश्व दिवस (अर्थ डे) को मनाने की शुरुआत 1970 में हुई थी। सबसे पहले अमेरिकी सीनेटर गेलॉर्ड नेल्सन ने पर्यावरण की शिक्षा के तौर पर इस दिन की शुरुआत की थी। एक साल पहले 1969 में कैलिफोर्निया के सांता बारबरा में तेल रिसाव की वजह से त्रासदी हो गई थी। इस हादसे में कई लोग आहत हुए और पर्यावरण संरक्षण की दिशा में काम करने का फैसला किया। इसके बाद नेल्सन के आह्वान पर 22 अप्रैल को लगभग दो करोड़ अमेरिकियों ने पृथ्वी दिवस के पहले आयोजन में हिस्सा लिया था। और लोगों से अपील की है कि यह एक ऐसा दिन होता है जब करोड़ों लोग मिलकर पृथ्वी से जुड़ी चीजों के प्रति लोगों को और खासकर अपनी आने वाली पीढ़ियों को जागरूक करते हैं इसमें क्लाइमेट चेंज ग्लोबल वार्मिंग वातावरण प्रदूषण और जैव विविधता संरक्षण जैसे तमाम चीजें शामिल हैं जिससे एक वृक्ष जरुर लगाएं विश्व पृथ्वी दिवस पर वृक्ष लगाकर बढ़ते प्रदूषण को रोका जाए और लोग पृथ्वी के जनमत को समझें और पर्यावरण को बचाना विश्व पृथ्वी दिवस के दिन लोग अपने घरों में सड़क किनारे गांव में पेड़ अवश्य लगाएं इस अवसर पर डिबाई रेंज प्रभारी कुबेरदत्त शर्मा, वन दरोगा सुरेंद्र कुमार बिष्ट, वन रेंज बाबू पुष्पेंद्र कुमार,  वनरक्षक देवदत्त एवं डम्बर सिंह  प्यारेलाल आदि मौजूद रहे