Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

सास की गंभीर बीमारी के बाद दूल्हे ने मंदिर में रचाई शादी

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

सास की गंभीर बीमारी के बाद दूल्हे ने मंदिर में रचाई शादी

रामसेवक राजभर पत्रकार

साधारण तरीके से हुए विवाह की क्षेत्र में है काफी चर्चा

दुल्हन की मां को गंभीर बीमारी होने पर दूल्हे ने न केवल तय समय से पहले शादी कर ली, बल्कि कोई उपहार आदि भी नहीं लिया।साधारण तरीके से मंदिर में हुई दोनों की शादी की क्षेत्र में काफी चर्चा है।

विशुनपुरा थाना क्षेत्र के दुदही गोला बाजार निवासी नरेंद्र जायसवाल ने अपने छोटे बेटे दीपक जायसवाल की शादी देवरिया के राघव नगर निवासी सुशील की बेटी स्वाति से तय की थी। मार्च माह में दोनों की सगाई हुई थी। तब शादी की तिथि आठ दिसंबर तय की गई थी। 10 दिन पहले स्वाति की मां इंदू देवी के सीने में अचानक तेज दर्द उठा। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, तो पता चला कि वह गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं।

स्वाति के पिता सुशील परचून की दुकान चलाकर परिवार का भरण पोषण करते हैं। उन्होंने पत्नी की बीमारी का हवाला देते हुए बेटी की शादी करने में असमर्थता जताई, तो लड़के दीपक और उसके परिजनों ने साधारण तरीके से मंदिर में शादी करने का प्रस्ताव रखा। यही नहीं, दिसंबर के बजाय अगस्त में ही शादी करने को भी तैयार हो गए। सुशील की सहमति के बाद बीते बृहस्पतिवार को सिधुवा मंदिर में दीपक और स्वाति ने शादी रचा ली। इस मौके पर दीपक की ओर से उनके पिता नरेंद्र जायसवाल और बड़े भाई राजेश जायसवाल मौजूद थे। इसी तरह लड़की की ओर से केवल उनका परिवार था।