Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

एक निजी माइनिंग कंपनी के ठेकेदारों ने चेकिंग के नाम पर अवैध वसूली न मिलने पर की फायरिंग और मारपीट।

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

खबर सुल्तानपुर पट्टी से –

 

*एक निजी कंपनी कैलाश रिवर बैंड मिनरल एलएलपी कर रही है चेकिंग के नाम पर अवैध वसूली, ब अवैध वसूली न मिलने पर मारपीट और फायरिंग। अगर इस कंपनी के ऊपर नही हुई कोई कार्रवाई तो यह कंपनी दे सकती है किसी बड़ी घटना को अंजाम।*

 

आपको बताते चलें कल 2 अप्रैल को रुद्रपुर में देश के प्रधानमंत्री को दौरा है लेकिन यह माइनिंग के ठेकेदार किसी बड़ी साजिश के तहत किसी बड़ी घटना को अंजाम देकर सरकार की छवि को धूमिल करने ने लगे हैं। क्योंकि हाल ही में बीती रात को इन माईनिंग चेक पोस्ट के दर्जनों कर्मचारी हथियारों से लैस होकर पिपलिया स्थित रोड पर रायल्टी के नाम पर खनन के वाहनों रॉकर उनसे अवैध वसूली कर रहे थे। जिसका खनन ट्रांसपोर्ट के विरोध करने पर अंधाधुंध 50 रोड फायरिंग की जिसमें खनन ट्रांसपोर्टरो ने अपने बचाव में पथराव किया।जिसमें फरमान अली एवं मोहित गोलियों के छररे लगने से घायल हुये है।माइनिंग चेक पोस्ट के कर्मचारियों ने दबंगई दिखाते हुए आचार संहिता का उल्लंघन कर चलाई गोलियां।फायरिंग व पथराप की सूचना मिलने पर कोतवाल मनोज रतूड़ी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए और मामला शांत कराया।कोतवाल मनोज रतूड़ी ने बताया माइनिंग कक्षा एक राइफल दो खोके बरामद किए हैं।पुलिस द्वारा दोनों पक्षों की तहरीर पर 350 अज्ञात लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया।यह बताते चले कुछ दिन पूर्व दोराहा बॉर्डर पर स्टोन क्रेशर के डंपर को रोक कर रॉयल्टी के नाम पर अवैध वसूली को लेकर जमकर मारपीट हुई थी।सुल्तानपुर पट्टी के मोहल्ला नेता नगर निवासी माजिद ने तहरीर देकर आरोप लगाते हुए बताया रात्रि के 12:15 बजे 1 अप्रैल को 20-30 लोग हथियारों से लैस लाठी दांडी लेकर खड़े होकर मेरा डंपर रॉकर पैसे मांगने लगे विरोध करने पर चालक के साथ मारपीट की जिसमें हेल्पर गंभीर रूप से घायल हो गया।जब मुझे पता चला तो मैं अपने मित्र मोहित को लेकर पहुंचा तो उसके साथ भी मारपीट करने लगे मोहित भी घायल हो गया जान बचाकर वहां से भागे और उनके द्वारा हमारी कार पर भी फायरिंग की गई।पीड़ित न्याय की गुहार लाकर लगभग 50 अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की।वहीं माइनिग चेक पोस्ट कर्मचारियों ने कोतवाली में तहरीर देकर बताया कैलाश रिवर बैंड मिरनल एलएलपी को खनन वाहनों की रॉयल्टी चेक करने का उत्तराखंड सरकार द्वारा ठेका दिया गया है। जब हम बिना रॉयल्टी वाले खनन वाहनों को चेक कर रहे थे।उसी समय लगभग 300 खनन ट्रांसपोर्टर एकत्र होकर स्टाप पर पथराव शुरू कर दिया जिसमें दो बोलोरो गाड़ियों के शीशे तोड़े गए। वे काबू भीड़ को देखकर गाममैन ने हवाई फायरिंग की।अपने कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर फायरिंग की गई हमसे अपने कर्मचारियों के लिए जो भी मौके पर हो सका वह हमने किया। पथराव से हमारा काफी नुकसान हुआ है।हमने सेल्फ डिफेंस के लिए फायरिंग की हमारी फायरिंग से कोई घायल नहीं हुआ है।पुलिस द्वारा दोनों पक्षों की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया गया है।वहीं पुलिस दोनों पक्षों की जांच पड़ताल कर रही है। यहां बताते चलें माइनिंग के चेक पोस्टों के कर्मचारियों द्वारा रॉयल्टी के नाम पर अवैध वसूली को लेकर दो बार खूनी संघर्ष हो चुका है और आने वाले समय में भी और भी गंभीर समस्या पैदा हो सकती है पुलिस प्रशासन का समय रहते हुए उनके खिलाफ कार्यवाही नहीं की तो और भी बड़ी घटना होने की संभावना है।रिपोर्टर इस्तेकार अली।

Arun
Author: Arun